What is The National Register of Citizens in hindi {NRC}

What is The National Register of Citizens in hindi {NRC}: दोस्तों अपने NRC के बारे में बहुत सुना होगा  पे आपको इसे पूरी डिटेल्स में समजने जा रहा हूँ की ये किया हैं |

What is The National Register of Citizens:

What is The National Register of Citizens in hindi {NRC}

What is The National Register of Citizens in hindi {NRC}

दोस्तों ये बिल सरकार द्वारा इस लिए लागू किया गया है की बंगालदेश में जो रह रहे हैं , उनमें से कितने परसेंट भारत के नागरिक हैं और कितने पर्तिशत भारत में अवैध रूप से रह रहे हैं |

दोस्तों में बता देना चाहता हूँ की इस NRC से बंगलादेश में अवैध रूप से रह रहे लोगों की होगी फिर उन्हें उनके देश भेज दिया जायेगा | में बता देना चाहता हूँ की अवैध रूप से रह रहे बांग्लादेशी की संख्या 50 लाख के पार है जो अवैध रूप से बांग्लादेश में कई समय से रह रहे है और इस वजह से यह सामजिक समस्या कई सालों से बनी हुई हैं |

1971 में स्वतंत्रता के समय कुछ बांग्लादेशी भारत में आ गए थे और यही रहने लगे इस कारण कई बार स्थनीय लोगों और इनके बीच कई बार झगड़े हुए और 1980 में इन्हें वापिस भेजने के लिए आंदोलन हुआ था और यह 37 सालों से चल रहा हैं |

बंगलादेश के घुसपैठियों भगाने के लिए ऑल असम स्टूडेंट यूनियन और असम गण परिषद् द्वारा 1979 में आंदोलन किया गया था जो 6 साल तक चला जिसमें हजारों लोगों की मौत हुई थीं |

National Register of Citizens points

1985 में इस हिंसा को रोकने के लिए आंदोलनकारी और सरकार के बीच समझौता हुआ ये समझौता उस समय के प्रधनमंत्री राजीव गांधी और ऑल असम स्टूडेंट यूनियन और असम गण परिषद् के बीच में हुआ वह इस बात पर समझौता हुआ की 1951 से 1971 के बीच जो बांग्लादेशी आए उन्हें भारत की नागरिकता दी जायें और जो 1971 के बाद आए उन्हें वापिस भेजा जाये पर इस से आंदोलनकारी के बीच बात बनी और ये समझौता फैल हो गया |

2005 में सर्कार ने What is The National Register of Citizens in hindi {NRC} बिल लाई जो की राज्य और केंद्र सरकार मिल कर लाई जो की बहुत धीमी गति  सुप्रीम कोर्ट तक पहुंचा |

इस मुद्दे जहाँ कांग्रेस बहुत सुस्त थी वही बीजेपी ने इस पर दाव खेला और 2014 में जनता से वादा कर के की वह बांग्लादेशियों को वापस भेजेंगी वादा कर सत्ता में आयी और 2015 में कोर्ट ने National Register of Citizens लिस्ट अपडेट करने के लिए अपना आदेश दिया और 2016 में बीजेपी की सरकार बनी और बांग्लादेशियों को वापस भेजने की परिक्रिया तेज हो गई |

बीच लोगों ने अपनी नागरिकता साबित करने के लिए बहुत से कागज़ात दिए और बतया की वह 1971 से पहले से रहती हैं और वह के मूल निवासी हैं |

NRC

इसके बाद सरकार ने घर-घर जाकर कागजात चेक किये और लोगो ने वंशवली को आधार बनाकर जाँच की गयी |  2017 में सरकार  लाइन खत्म हो गई और आधी रात में सरकार ने National Register of Citizen की पहली लिस्ट जारी की जिसमे बहुत लोग नराज दिखे और आने वाले कुछ दिनों में सरकार दूसरी लिस्ट भी जारी करेंगी |

अगर हम बीजेपी की बात करे तो उनके लिए ये मुद्दा बहुत बड़ा था | और मोदी ने हिन्दू शरणार्थियों को नागरिकता देने की बात कही थी इस वजह से सरकार नागरिक संशोधन बिल पास करना चाहती हैं |

दोस्तों अगर सरकार मुस्लिम घुसपैठियों पे सख्त हुई और बंगला हिन्दुओं पर नरम हुई तो एक समस्या उत्पन हो सकती हैं |

तो दोस्तों आप को ये जानकारी What is The National Register of Citizens in hindi {NRC} कैसी लगी हमें कमेंट कर के बातये |

 

 

Leave a Comment