एक लड़की की सच्ची प्रेम कहानी | True Love Stories in Real Life in Hindi

एक लड़की की सच्ची प्रेम कहानी

True Love Stories in Real Life in Hindi:  एक लड़का एक लड़की से बहुत प्यार करता था | लेकिन उसकी एक बहुत बुरी आदत थी की उसे बात करने की तमीज़ नहीं थी |

लड़की भी उसे बहुत पसंद करती थी लेकिन उसके घर वाले उस लड़के को पसंद नहीं करते थे | क्यों की उसे बोलने की तमीज नहीं थीं एक बार उस लड़के ने लड़की को कहा:- “आई लव यू ” तभी उस लड़की के पापा का फ़ोन आया |

एक लड़की की सच्ची प्रेम कहानी | True Love Stories in Real Life in Hindi

पापा : कहा हो, उसी लड़के के पास होगी कितनी बार बोला है की उस लड़के से दूर ही रहा करो, ये कहकर उसके पापा ने कॉल काट दिया, तब लड़की ने बोलै “आई लव यू  टू ” लड़का समाझ गया और वह से चला गया |

लड़के की स्कूल की पढ़ाई पूरी हो चुकी थी इस लिए आगे की पढ़ाई के लिए देश से बहार जाना था | अगले दिन वो लड़की के पास गया और उससे बोला: मुझे पाता हैं तुम्हारे पिता मुझे क्यों नहीं पसंद करते, मगर अब मैं सुधर जाऊँगा |

ये भी पढ़े: एक ताले और चाभी की कहानी

लड़की खुश हुई और उसने लड़के को उसके पापा से बात करने को बोला, लड़का लड़की के पापा के पास गया और उनसे वादा किया कि वो अच्छा बन जायेगा |

लड़के के घरवालों की सहमति पर जाने से पहले लड़के की उस लड़की से सगाई के दी, दोनों ने एक दूसरे को रिंग पहनाई वो लड़का चला गया मगर वाहा वो डेली उसे कॉल करता, उसे मैसेज करता, और प्यार भरी बाते करता, मगर एक दिन वो लड़की अपने मम्मी पापा के साथ घर वापिस आ रही थी तभी एक कार ने उन तीनों को टकर मार दी |

थोड़ी देर बाद लड़की ने देखा की उसके मम्मी पापा दर्द से चिल्ला रहे थे, वो कुछ करना चाहती थीं  मगर उसे भी काफी चोट आई थी | उसे हॉस्पिटल में भर्ती किया गया, वह डॉक्टर ने बताया की असिडेंट की वजह से लड़की ने अपनी आवाज खो दी हैं | और वो अब कभी बोल नहीं सकती |

लड़की को इस बात से बहुत ज्यादा सदमा लगा | उसे घर लाया गया, लड़के के कॉल पे कॉल आए, मैसेज पे मेसेज, मगर उस लड़की ने ना कॉल और ना ही sms  का replay दिया |

वो उसे दुखी नहीं करना चाहती थीं, फिर उसने उस लड़के को लेटर लिखा की वो उसे भूल जाये वो उसे अब प्यार नहीं करती और उसने उस लेटर के साथ सगाई वाली रिंग भी वापिस भेज दी |

ये भी पढ़े: बेटियाँ हमारे लिए कितनी जरुरी है

वो अब बहुत दुखी रहने लगी और रात दिन रोने लगी , तब उसके घर वालो ने सोचा सायद ये जगह छोर दे तो वो उसे भूल जाएगी|  ये सोचकर उन्होंने अपने फ्लैट चेंज क्र दिए और न्यू जगह चले गए |

वह वो लड़की इशारों की भषा सीख गयी और वो अपने पापा को डेली कहती की उसने उसको भुला दिया | , कुछ दिनों बाद उस लड़के का दोस्त उस लड़की के पास आया और बोला की वो तुमसे मिलना चाहता हैं | लड़की ने एक खत पे लिख क्र उसके दोस्त को कहा की वो उस लड़के को कभी नहीं बातये की में कहा हूँ |




और मै अब बोल नहीं सकती ये सुनकर उस लड़के का दोस्त वहाँ से चला गया | 2 – 3 साल बाद उस लड़के का वो दोस्त अपने हाथ में एक कार्ड लेकर वाहा आया, उसने उस लड़की को वो कार्ड देते वे बोलै की :
वो अब शादी कर रहा हैं , लड़की ने दुखी मन से वो कार्ड खोला और देखा की दुल्हन की जगह उसका खुद का नाम लिखा था | उसने वापसी ऊपर देखा तो वहा वो लड़का भी खड़ा था जिसे वो प्यार करती थीं |

उसने उसे इशरो में समझया की इन  2 – 3 साल में उसने भी केवल इशारों की भाषा सीखी इसलिए आने में लेट हो गया , अब जैसा तुम बोलोगी में भी वैसा ही बोलूँगा | ये सुन कर लड़की की आँख में आँसू आ गए और उसने लड़के को गले लगा लिया |

दोस्तों ये एक लड़की की सच्ची प्रेम कहानी | True Love Stories in Real Life in Hindi आप को कहानी कैसी लगी हमे कम्मेंट कर के बातये | 

Leave a Comment